हाथरस : करबन नदी में सिल्ट की सफाई कार्य तथा डोलबंदी का जीर्णोद्धार कार्य का शुभारंभ जिलाधिकारी रमेश रंजन ने पीपल का वृक्ष लगाकर किया।

1 min read
Spread the love

हाथरस : विकास खंड सादाबाद के ग्राम पंचायत बीजलपुर में तालाब, चारागाह की भूमि का निरीक्षण एवं करबन नदी में सिल्ट की सफाई कार्य तथा डोलबंदी का जीर्णोद्धार कार्य का शुभारंभ जिलाधिकारी रमेश रंजन ने पीपल का वृक्ष लगाकर किया।
सर्वप्रथम जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायत बीजलपुर में तालाब एवं चारागाह की भूमि का निरीक्षण किया। जहां पर उप जिलाधिकारी सादाबाद ने बताया कि इसका कुल क्षेत्रफल 4.443 हे0 है। जिसमें से 1.214 हे0 भूमि तालाब के लिए तथा 3.229 हे0 चारागाह की भूमि के लिए आवंटित है। उन्होने बताया कि वृक्षारोपण हेतु 1650 गड्ढे खोदे गए हैं। चारागाह भूमि को समतल कराते हुए मनरेगा के माध्यम से पार्क का निर्माण कराने एवं चारों ओर तार बंदी कराते हुए वृक्षारोपण कराने तथा पौधों को पानी देने के लिए सोलर पंप लगाने के निर्देश दिए। रोड के किनारे लोगों के बैठने हेतु बेंच की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। भूमि से संबंधित दस्तावेजों का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी से भूमि की पैमाइश कराते हुए यह सुनिश्चित करें कि गाटा में जितनी भूमि दर्ज है उतना क्षेत्रफल खाली है कि नहीं यदि किसी व्यक्ति द्वारा अवैध रूप से कब्जा किया गया है तो उसे नोटिस देते हुए तत्काल खाली कराना सुनिश्चित करें। ग्राम पंचायत बीजलपुर के पास से निकली करबन नदी पर किए जा रहे जीर्णोद्धार कार्य का भी निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने परियोजना निदेशक को लघु सिंचाई विभाग से समन्वय स्थापित करते हुए सिल्ट की सफाई कराने के साथ ही 3 मीटर चैड़ी मेड़बंदी कराते हुए अधिक से अधिक संख्या में वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने पीपल के वृक्ष का रोपण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इसके पश्चात ग्राम पंचायत बीजलपुर में ही खेल के मैदान का निरीक्षण किया। ग्राम प्रधान ने बताया कि इसका क्षेत्रफल लगभग 25 डेसीमल है, जिलाधिकारी ने खेल के मैदान के चारों तरफ तारबंदी कराते हुए वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिए।
इसके पश्चात जिलाधिकारी ने विकासखंड सादाबाद के ग्राम पंचायत पुसैनी में निर्माणाधीन पंचायत भवन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत राज अधिकारी ने बताया कि पंचायत भवन का निर्माण कार्य माह फरवरी 2021 में प्रारंभ हुआ था। निर्माण की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को अलग-अलग कार्य के लिए अलग-अलग मैन पावर लगाते हुए निर्माण कार्य को निर्धारित समय अनुसार गुणवत्ता पूर्ण ढंग से पूर्ण कराने के निर्देश दिए जिलाधिकारी ने पंचायत घर में लगे जंगलों/खिड़कियों की लंबाई चैड़ाई बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिससे कि हवा तथा प्रकाश की उचित मात्रा उपलब्ध रहे।
इसके पश्चात जिलाधिकारी ने विकासखंड सादाबाद के ग्राम पंचायत बरौस में मनरेगा के तहत चल रहे तालाब खुदाई के कार्य का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान खंड विकास अधिकारी ने बताया कि तालाब का क्षेत्रफल 0.02 हे0 है। उन्होनें बताया कि लेखपाल द्वारा 15 दिन पूर्व तालाब के क्षेत्रफल की पैमाइश की गई है, लगभग 10 वर्ष पूर्व इस तालाब में कार्य कराया गया था। जिलाधिकारी ने तालाब खुदाई के कार्य को तीन अलग-अलग स्टेप में करने तथा प्रत्येक स्टेप पर वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वर्षा का पानी तालाब में पहुंचने हेतु नाली की व्यवस्था इस प्रकार करें कि अधिक से अधिक वर्षा का पानी तालाब तक पहुंच सके।
इसके पश्चात जिलाधिकारी ने विकासखंड सादाबाद के ग्राम पंचायत बेदई में मनरेगा एवं अधिशासी अभियन्ता लघु सिंचाई द्वारा कराये जा रहे करबन नदी के जीर्णोंद्धार एवं वृक्षारोपण कार्य का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई को कार्य योजना तैयार करते हुए सिल्ट सफाई कराने के निर्देश दिए तथा खंड विकास अधिकारी एवं प्रभागीय वन अधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिए।
निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी सादाबाद विपिन कुमार शिवहरे, परियोजना निदेशक अश्विनी कुमार मिश्र, जिला विकास अधिकारी अवधेश सिंह यादव, खंड विकास अधिकारी गरिमा खरे, जिला पंचायत राज अधिकारी बनवारी सिंह, ए0डी0ओ0 पंचायत, लेखपाल, ग्राम प्रधान तथा अन्य संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

इनपुट : रंजीत कुमार

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *