गंगा यमुना से लेकर नहरों तक चौकसी बढ़ी, शवों का जल प्रवाह रोका जाएगा

1 min read
Spread the love

बीत कुछ दिनों में कई जिलों में कोरोना संक्रमित मरीजों के शव नदियों में बहाए जाने की घटनाएं लगातार सामने आई हैं, जिसके बाद प्रदेश सरकार इसको लेकर सख्त हो चुकी है। अब जिला प्रशासन ने निगरानी तंत्र मजबूत कर दिया है। जिले में गंगा नदी के तट पर दादों, सांकरा का क्षेत्र है तो यमुना तट पर टप्पल का इलाका है। इससे सटे गांव में अब जिला पंचायत राज विभाग द्वारा समिति गठित की जाएंगी। इस समिति में प्रधान भी शामिल होंगे। यही समितियां निगरानी करेगी।
गंगा व यमुना के किनारों पर नजर रखी जा रही है। किसी भी हाल में शवों को नदियों में नहीं बहने दिया जाएगा। निगरानी समितियों का गठन किया जा रहा है, इससे नवनिर्वाचित प्रधानों को भी जोड़ा जा रहा है।
नहरों पर पतरौल की टीम को बताया गया है। वह नजर रखेंगे और कोई भी शव मिलने पर उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था की जाएगी। संक्रमित शव नहीं बहने दिए जाएंगे।

input : moh sahenwaj

यह भी पढ़े : कैसे साइंटिस्ट और इंजीनियर ने समुद्र में पवन चक्कीया लगा खड़ी करी और उन से बिजली उत्पन्न की

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni one

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *