हाथरस : एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक हृयूमन राइट्स संस्था द्वारा अज्ञात शवों का कराया गया दाह संस्कार

1 min read
Spread the love

हाथरस : व्यक्ति के मानव अधिकारों के संरक्षण और संवर्धन का कार्य कर रही एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक हृयूमन राइट्स संस्था अज्ञात शवों के धार्मिक रीति-रिवाज से दाह संस्कार के लिए भी कार्य कर रही है
कोरोना की दूसरी लहर मे जहाँ लोग अपने परिजनों का साथ छोड़ रहे हैं ऐसी भीषण परिस्थिति में भी यह कोरोना योद्धा अपने आप को समर्पित किए हुए हैं ।
अज्ञात शव का दाह संस्कार एडीएचआर की देखरेख और समाजसेवी सुनीत आर्य के नेतृत्व में किया गया जिसके दाहसंस्कार की व्यवस्था मे सुनील अग्रवाल अध्यक्ष निस्वार्थ सेवा संस्थान पूर्णरूपेण सहयोग रहा ।
एक अज्ञात महिला जिसकी उम्र लगभग 65–70 वर्ष है 2 मई तालाब चौराहे पर पटरी-पटरी के सहारे जा रही थी ट्रेन की चपेट में आकर उनकी मृत्यु हो गई पहचान के लिए कोई परिपत्र नही मिला थाना जीआरपी द्वारा शव को शिनाख्त के लिए पोस्टमार्टम हाउस में 72 घंटे के लिए रखा गया शिनाख्त न होने के कारण शव को लावारिस घोषित कर अंतिम संस्कार के लिए समाजसेवी सुनीत आर्य ,एडीएचआर राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय से संपर्क किया, समाजसेवियों द्वारा उक्त अज्ञात शव का पत्थर वाली श्मशान गृह पर पूर्णता हिंदू रीति रिवाज के अनुसार अंतिम संस्कार किया । अंतिम संस्कार करने वालों में निस्वार्थ सेवा संस्थान के अध्यक्ष सुनील अग्रवाल,एडीएचआर राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय, सुनीत आर्य,महिला हेडकांस्टेबल सबिता,हेडकांस्टेबल कुलदीप आदि उपस्थित रहे ।

इनपुट : राजदीप तोमर

यह भी पढ़े : जाने अक्षय के डेब्यू के वक्त कितनी साल की थी यह एक्ट्रेस

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *